भारतीय इस्पात प्राधिकरण लि.

प्रेस सूचना ब्यूरो की 08 अप्रैल, 2010 की प्रेस विज्ञप्ति – भारतीय इस्पात प्राधिकरण लि. द्वारा अतिरिक्त इक्विटी जुटाना और सेल में सरकार की इक्विटी के एक हिस्से का बिक्री की पेशकश के माध्यम से विनिवेश

 

आर्थिक कार्य संबंधी मंत्रिमंडल समिति ने सेल द्वारा 10% प्रदत्त इक्विटी की सीमा तक अतिरिक्त इक्विटी जुटाने और सेल में भारत सरकार की 10% इक्विटी की सीमा तक एक हिस्से का बिक्री की पेशकश के माध्यम से विनिवेश के प्रस्ताव का अनुमोदन किया है जो दो अलग-अलग दौर में संपन्न किया जाएगा।

 

अनुवर्ती सार्वजनिक पेशकश में कंपनी की 5% निर्गम-पूर्व प्रदत्त इक्विटी के नए निर्गम और सेल में सरकारी इक्विटी में से 5% इक्विटी की बिक्री की पेशकश का पहला दौर शामिल होगा। आर्थिक कार्य संबंधी मंत्रिमंडल समिति ने पहले दौर पर कार्रवाई करने की अनुमति प्रदान कर दी है तथा पहले दौर की तरह दूसरा दौर प्रचलित बाजार परिस्थितियों पर निर्भर करते हुए उपयुक्त समय पर जारी किया जाएगा।

 

विनिवेश के साथ अनुवर्ती पेशकशें सेबी के विनियमों और विनिवेश विभाग, जो सरकारी क्षेत्र के उद्यमों के विनिवेश पर कार्रवाई करने के लिए नोडल एजेंसी है, द्वारा अपनाई गई प्रक्रिया के अनुसार संपन्न की जाएंगी।

 

अनुवर्ती सार्वजनिक पेशकश के परिणामस्वरूप, सेल में आम जनता की शेयरधारिता वर्तमान 14.2% के स्तर से बढ़कर 31% हो जाएगी और यह संभावित है कि बढ़ी हुई शेयरधारिता के परिणामस्वरूप बाजार में गहरी पैठ बनेगी। दूसरी पेशकश और इक्विटी कम होने के परिणामस्वरूप, कंपनी में जनस्वामित्व और व्यापक हो जाएगा जिसके परिणामस्वरूप जनता के सिंहावलोकन और उत्तरदायित्व में वृद्धि होगी।

 

पृष्ठभूमि:

 

सेल में सरकारी इक्विटी का विनिवेश सरकार की इस समग्र नीति के अनुरूप है कि केन्द्रीय सरकारी क्षेत्र के उद्यमों के स्वामित्व में आम जनता की भागीदारी होगी, जैसाकि संसद को दिए गए राष्ट्रपति के अभिभाषण और वित्त मत्री के बजट भाषण में विचार किया गया है। सेल की अनुवर्ती सार्वजनिक पेशकश से आम जनता का उत्तरदायित्व अधिक होगा और इससे बाजार में पैठ गहरी होने की संभावना है।

 

सेल द्वारा इक्विटी के नए निर्गम से प्राप्त धनराशि से इस्पात के मूल्यों पर बढ़ते दबाव और घटते लाभ से उत्पन्न सेल के पूंजी व्यय का वित्तपोषण करने के लिए उपलब्धता में संसाधनों के अभाव को पूरा करने में सहायता मिलेगी। इस समय सेल में उसकी स्थापित गर्म धातु उत्पादन क्षमता को मौजूदा 13.82 मिलियन टन प्रतिवर्ष से बढ़ाकर चालू चरण में 23.46 मीट्रिक टन प्रतिवर्ष करने का भारी विस्तार कार्य चल रहा है।

सेल की वेबसाइट के सुगम संदर्भ के लिए लिंक की व्यवस्था की जा रही है।